Super User

Super User

Aliquam erat volutpat. Proin euismod laoreet feugiat. In pharetra nulla ut ipsum sodales non tempus quam condimentum. Duis consequat sollicitudin sapien, sit amet ultricies est elementum ac. Aliquam erat volutpat. Phasellus in mollis augue.

Website URL: http://www.youjoomla.com

07
April

मैनफोर्स

गोण्डा। बहुत प्रचलित और पुरानी कहावत है कि खुदा मेहरबान, तो गधा पहलवान! यह कहावत आम लोगों पर ही नहीं, बल्कि अधिकारियों और उनके अधीनस्थों पर भी लागू होती है। आलम यह है कि जिले के उच्चाधिकारी अपने ही आदेशों को रौंदते हुए बैकफुट पर आ जाते हैं। इसकी बानगी के तौर पर हम सीएमओ गोण्डा के दो आदेशों को पेश कर रहे हैं। दरअसल, जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी सीएमओ डॉ. संतोष श्रीवास्तव को मनकापुर सीएचसी पर तैनात एक डॉक्टर के सामने घुटने टेकने पड़े और करनैलगंज सीएचसी अधीक्षक के रसूख के आगे भी उन्हें नतमस्तक होना पड़ा। बताते चलें कि जिले के वीवीआईपी माने जाने वाले मनकापुर सीएचसी में बीते 20 वर्षों से तैनात डॉ. अनिल कुमार राय को सीएमओ ने हाल ही में जिला मुख्यालय के महिला अस्पताल में तैनाती का फ रमान जारी कर दिया।

06
April

मैनफोर्स

बहराइच। वैसे तो जनपद के माध्यमिक शिक्षा विभाग से उठ रही घोटाले पर घोटाले की खबरें कोई नई बात नहीं है लेकिन लगातार सब कुछ सामने होने के बाद भी उक्त विभाग में भ्रष्टाचार का पाया जाना न सिर्फ जिला प्रशासन व  जिम्मेदारों की नाकामयाबियों को दर्शाता है बल्कि जनपद से ही उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट व राज्य मंत्री के प्रतिनिधित्वकर्ता के साथ-साथ सांसदों, प्रदेश उपाध्यक्ष व कई विधायकों के कार्य प्रणालियों पर भी अनायास ही सवाल पर सवाल खड़ा करता नजर आ रहा है। मालूम हो कि माध्यमिक शिक्षा विभाग का जनपदीय भार संभालने के साथ साथ अवैध नियुक्तियों के माहिर खिलाड़ी माने जाने वाले डीआईओएस राजेंद्र कुमार पांडे अपने फैजाबाद कार्यकाल से लेकर वर्तमान बहराइच तक भ्रष्टाचार के दर्जनों आरोपों से घिरने के बाद भी खुद तो जनपद में जमे ही हुए हैं और ऐसे ही डीआईओएस के संरक्षण में जहाँ पूर्व में यहां से गैर जनपद स्थानांतरित हुआ भ्रष्ट व दागी लिपिक हरेंद्र सिंह घोटाले दर घोटाले करता रहा।

06
April

मैनफोर्स

बाराबंकी। जनपद के देंवा मार्ग पर स्थित भारतीय खाद्य निगम के डिपो में श्रमिकों का उत्पीडऩ करते हुए सुबह साढ़े नौ बजे से लेकर रात नौ बजे तक पी.डी.एस. लोडिंग, लेवी अनलोडिंग व स्टैटिंग स्कीम के अन्तर्गत खाद्यान्न लोडिंग का कार्य कराया जाता है। जबकि मजदूरों की कार्य अवधि सुबह साढ़े नौ बजे से लेकर साढ़े पांच बजे सांय तक निर्धारित है। यह जानकारी देते हुए शिवसेना जिला प्रमुख मनोज विद्रोही ने बताया कि डिपों पर सहायक प्रबंधक द्वारा मजदूरों का उत्पीडऩ करते हुए सांय पांच बजे के बाद ट्रकों को लोडिंग व अनलोडिंग हेतु डिपों में प्रवेश कराया जाता है। इस प्रकार वर्क व समय से अधिक कार्य लिया जा रहा है। डिपों के अन्तर्गत श्रमिकों के लिए व्यवस्थायें शून्य है। विद्युत पेयजल व चिकित्सा की समुचित व्यवस्था नहीं है। श्रमिकों को जहरीले कीड़े के दशं से बचाव के कोई साधन व औषधि नहीं है।

06
April

मैनफोर्स

बाराबंकी। एक तरफ जहां सरकारी जमीनों को दबंग भू-माफि याओं के चंगुल से मुक्त कराने के लिए सूबे की योगी सरकार एंटी भू-माफियां जैसे अभियान चलाकर भू माफियाओं के हौसले को पस्त करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है तो वही कुछ ऐसे भी भू-माफिया है। जिनको सरकार की इस प्रकार की कार्यवाही का लेस मात्र भी खौफ नहीं है और धडल्ले से अवैध खनन जैसे अनैतिक कृत्यों को अंजाम दे रहे है। जिसका एक छोटा सा उदाहरण जनपद बाराबंकी के तहसील रामसनेहीघाट के एक गांव में बांसगांव में देखने को मिल रहा है। यहां पशुपालन विभाग की सरकारी जमीनों पर कुछ तथाकथित भूमाफि या आज भी अंगद के पांव की भांति अपना कब्जा जमाए हुए हैं। इस संबंध में मुख्यमंत्री समेत उच्चाधिकारियों से शिकायत भी की गई। मगर नतीजा सिफर रहा है। जनपद बाराबंकी की तहसील रामसनेहीघाट क्षेत्र के ग्राम बांसगांव में पशुपालन विभाग की 350 हेक्टेयर भूमि पर तहसील प्रशासन की मिलीभगत से दबंगों का कब्जा है।